Header Ads

छोरा : बाबू जे आपणे भैस होंदी


छोरा : बाबू जे आपणे भैस होंदी, उसका गोबर
कोण गैर के आवै ए..?
.
बाबू - तेरी बहु।
.
छोरा - कड़े है बहु..?
.
बाबू - फेर भैस कड़े है।





कहाँ गये वो समाज सेवक?

कहाँ गये दानवीर व्यक्ति ?

थंड में कपड़े, स्वेटर, ब्लेंकेट बाटते फिरते थे जो,
और
अब इस मार डालने वाली गर्मी में

थंडी थंडी बियर नहीं बाँटोगे क्या ?

नोट:- मै पीता नहीं हूं पर दोस्तों की चिंता रहती है!!                      



No comments

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();